Wednesday, 22 September, 2021

Periods talane ke upay 2021


महिलाओं को हर महीने मेंस्ट्रुएशन या पीरियड्स होना जरूरी हैं. इससे उनके शरीर में बनने वाले हार्मोन बैंलेस में रहते है और समय- समय पर बल्ड फिल्टर होता रहता है. लेकिन हर महीने होने वाले पीरियड्स के दौरान उन्हें पेट दर्द, कमर और पैरों में दर्द की परेशानी होती है. इसके अलावा उन्हें बुखार और मूड स्विंग्स से भी गुजरना पड़ता हैं.

कई बार महिलाएं शादी और पार्टी के खास मौके पर पीरियड्स टालने के लिए दवाई का सहारा लेती हैं जिसका असर सेहत पर पड़ता है. इसके अलावा आपके प्रजनन अंगों पर भी बुरा असर पड़ता है. इसीलिए हम आपको कुछ घरेलू उपाय बता रहे हैं जिसे अपनाकर आप इन्हें नेचुरल तरीके से टाल सकती हैं.


एप्पल साइडर विनेगर

एप्पल साइडर विनेगर बॉडी को डिटॉक्स करने के साथ वजन कम करने में मदद करता है.

इसके अलावा यह पीरियड्स के डेट को आगे बढ़ाने का काम करता है. इसके लिए एक ग्लास पानी में 3 से 4 चम्मच सिरका मिलाकर दिन में दो से तीन बार पिएं. कई स्टडी में इस बात का दावा किया है कि सिरका पीने से पीरियड की डेट लेट हो जाती है. आपको इसका स्वाद अच्छा नहीं लगेगा. लेकिन ये एक कारगर उपाय है.

चने की दाल

आप पीरियड्स की डेट को आगे बढ़ाने के लिए चने की दाल का इस्तेमाल कर सकती हैं. यह आपके किचन में आसानी से मिल जाता है. इसके लिए आप चने की दाल को फ्राई कर पाउडर बानाकर सेवन कर सकती हैं. वहीं इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी है. जरूरत से ज्यादा खाने पर कब्ज हो सकता है.


कई बार इन दवाओं का सेवन करने से हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं, जिससे पीरियड का चक्र बिगड़ सकता है, कभी कभी तो 2 महीने तक पीरियड लेट हो जाते हैं.

मासिक चक्र का समय 28 से 30 दिन का होता है, लेकिन अगर ये चक्र बिगड़ जाये तो महिलाओं की प्रजनन प्रणाली पर बुरा प्रभाव पड़ता है.

कई महिलाओं को इन दवाओं के सेवन से हैवी ब्लीडिंग की समस्या हो जाती है, इसी के साथ दर्द भी काफी तेज हो सकता है.

डायबिटीज या मोटापे की समस्या से जूझ रही महिलाओं को इन दवाओं के सेवन से रीएक्शन हो सकता है, जिससे कई समस्याएं हो सकती हैं.

इन दवाओं के सेवन से हारमोंस में तेजी से बदलाव होता है, जिससे चेहरे पर अनचाहे बालों, झुर्रियों और मुंहासों की समस्या बढ़ सकती है.

0 comments on “Periods talane ke upay 2021

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *